NCR News:ग्रेटर नोएडा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर कोरोना महामारी की तीसरी लहर के मद्देनजर यमुना प्राधिकरण सेक्टर-18 20 में में 100-100 बेड के दो शिशु अस्पताल बनाने जा रहा है। इसके लिए लिए यमुना प्राधिकरण ने रिक्वेस्ट फॉर प्रपोजल (आरएफपी) निकाल दिया है। अस्पतालों को बनाने की इच्छुक कंपनियों के साथ सोमवार को प्राधिकरण बैठक करेगा और 7 जून को अस्पताल के लिए कंपनियों का चयन कर लिया जाएगा। प्राधिकरण प्रयास कर रहा है कि अस्पताल 8 से 10 महीने में अस्पताल बनकर तैयार हो जाएं। इसमें शर्तों को मानने वाली कंपनियों को प्राथमिकता के आधार पर जमीन आवंटित की जाएगी। इसके अलावा कुछ और भी मदद प्राधिकरण करेगा, ताकि अस्पताल को कम से कम समय में बनाया जा सके। सोमवार को यमुना प्राधिकरण को इच्छुक कंपनियां प्रस्ताव देंगी। इन्हीं प्रस्तावों पर 7 जून को विचार करके कंपनी का चयन कर लेगा।दादरी, सदर और जेवर तहसील के विभिन्न गांवों और सेक्टरों में रविवार को कोविड जांच शिविर लगाए गए। साथ ही, बिसरख और दादरी सीएचसी में भी जांच की गई। 1707 लोगों के एंटीजन टेस्ट में एक व्यक्ति संक्रमित मिला। दादरी एसडीएम आलोक कुमार गुप्ता ने बताया कि बंबावड़, दादरी के वार्ड नंबर दो, कोट, खंगोड़ा और बिसरख ब्लॉक के गांव झुंडपुरा, जलपुरा, सैनी, सुनपुरा, नोएडा के सेक्टर-10,17,8,9, श्योराजपुर, भोलारावल में शिविर लगाया गया था। सभी जगह एंटीजन टेस्ट की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। दादरी सीएचसी पर 351 लोगों का एंटीजन टेस्ट किया गया। यहां भी कोई पॉजिटिव नहीं मिला। बिसरख सीएचसी पर 266 लोगों की जांच की गई। यहां पर एक व्यक्ति पॉजिटिव मिला है। उसे मेडिकल किट दी गई है।